अंचलाधिकारी समेत कृषि पदाधिकारी व नजारत अंचल कक्ष में लटका ताला,अधिकारी नदारत

सीतामढ़ी : बोखड़ा प्रखंड में अफसरशाही सर चढ़ कर बोल रहा है सुशासन बाबू के सरकार में आम जनता के टैक्स के पैसे से वेतन पाने वाले अधिकारी की मनमर्जी बढ़ती ही जा रही है.पब्लिक सर्वेंट अर्थात जनता का नौकर अपने आप अफसरशाही की चासनी में इस तरह डुबाए हुए हैं कि उन्हें अपने नैतिक जिम्मेदारी का अहसास ही नहीं है.

कृषि पदाधिकारी कार्यालय में लटका ताला

शुक्रवार को नवनिर्वाचित प्रखंड प्रमुख औचक निरीक्षण के लिए प्रखंड में पहुंचे, प्रखंड के हालत को देखकर भौचक रह गए उन्होंने मीडिया को बताया कि अंचलाधिकारी समेत कृषि पदाधिकारी व नजारत अंचल कक्ष में ताला लटका हुआ पाया,अधिकारी नदारत थे.

नजारत अंचल में लटका ताला

प्रमुख सुधीर कुमार ने बताया कि अफसरशाही इतना हावी है कि प्रखंड में सुबह के 11 बजकर 17 मिनट तक बोखड़ा अंचलाधिकारी,कृषि पधाधिकारी एवं नजारत अंचल का कक्ष बंद था. ऐसे में आम जनता का काम कब और कैसे होगा. प्रमुख ने जिला प्रशासन व वरीय पदाधिकारी को मामले को संज्ञान में लेकर करवाई की बात कही.

© सीतामढ़ी की आवाज| टीम