पेगसास जासूसी कांड में मोदी सरकार की संलिप्तता से नाराज सीतामढ़ी जिला युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं का विरोध-प्रदर्शन.

पेगसास जासूसी कांड में मोदी सरकार की संलिप्तता से नाराज सीतामढ़ी जिला युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जिलाध्यक्ष मो.शम्स शाहनवाज के नेतृत्व में जिला मुख्यालय डुमरा के मधुबन चौक पर जोरदार विरोध-प्रदर्शन करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला दहन किया. प्रदर्शनकारी राष्ट्रपति से मोदी सरकार को तुरंत बर्खास्त करने की मांग कर रहे थे.

इस अवसर पर जिलाध्यक्ष शम्स शाहनवाज ने कहा कि एक अंतर्राष्ट्रीय पब्लिकेशन में हुए सनसनीखेज खुलासे ने पुष्टि कर दी है कि मोदी सरकार ने गैरकानूनी और असंवैधानिक तरीके से इज़्रायल से खरीदे जासूसी स्पाईवेयर पेगासस का दुरुपयोग देशवासियों के खिलाफ़ किया और खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसमें शामिल हैं. यह खुलेआम लोकतंत्र का अपहरण और राजद्रोह है.
शम्स ने कहा कि मोदी सरकार ने साल 2017 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इज़्रायल यात्रा के दौरान 2 बिलियन डॉलर में सैन्य हथियार खरीदे, जिसका केंद्र बिंदु जासूसी के लिए खरीदा गया पेगासस स्पाईवेयर था.

यह भी संयोग है कि इसी समय राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) की नेशनल सिक्योरिटी काउंसिल सेक्रेट्रिएट (एनएससीएस) का बजट एकाएक 33 करोड़ से बढ़कर साल  2017 में 333 करोड़ हो गया.

युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष शम्स ने कहा कि स्पष्ट है कि स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा सरकार ने पेगासस जासूसी सॉफ्टवेयर खरीदकर देश की संसद से धोखा दिया. सुप्रीम कोर्ट को गुमराह किया और देश के पैसे का उपयोग देश के नागरिकों की जासूसी एवं सेंध लगाने के लिए किया.2019 के लोकसभा चुनावों से पहले लोकतंत्र का अपहरण किया गया. जासूसी कांड के गुनहगार मोदी सरकार को एक मिनट भी सत्ता में बने रहने का अधिकार नहीं है.

मौके पर जिला कांग्रेस के निवर्तमान मुख्य प्रवक्ता प्रमोद नील, वीरेंद्र कुशवाहा, शमशेर खान, वैदेही शरण यादव, मुस्तफा अंसारी, नईम अंसारी, तनवीर खान, महबूब खान, अरुण कुमार वर्मा, हामिद रज़ा, यासीन अंसारी, रंजीत कुमार, मुमताज़ खान, राहुल रमेश गुप्ता, हसनैन अंसारी, संजय सिंह, साबिर अंसारी, अख्तर रज़ा, भरत कुमार, दिलीप चौधरी आदि मुख्य रूप से मौजूद थे.