यूक्रेन में फंसे छात्रों को छोड़ भारत सरकार चुनाव में व्यस्त : जाप नेता राजू दानवीर

पटना : यूक्रेन में हुई भारतीय छात्रों पर हिंसा के खिलाफ सोमवार को जन अधिकार छात्र परिषद एवं युवा परिषद ने पटना के इनकम टैक्स चौराहे पर आक्रोश मार्च व केंद्र सरकार का पुतला दहन किया. इस मौके पर युवा अध्यक्ष राजू दानवीर ने कहा कि यूक्रेन संकट के बीच भारतीय छात्रों के साथ हो रहा लाठीचार्ज दुर्भाग्यपूर्ण है हम इसकी निंदा करते हैं और केंद्र सरकार से कहना चाहते हैं कि वो चुनाव छोड़ पहले अपने छात्र और युवाओं की चिंता करें, जो आज यूक्रेन में मुश्किल में फंसे है. उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार अगर समय रहते ये सुनिश्चित करती तो आज हमारे छात्रों की दुर्गति नहीं हो रही होती.

दानवीर ने कहा कि छात्र पहले से ही भारी कर्ज के बोझ तले दबे हुए हैं और अब इस कठिन परिस्थिति में विमान कंपनियां उन्हें वापस लाने के लिए 80,000 से एक लाख रुपये वसूल रही है यह सही नहीं है. उन्होंने कहा कि हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री पप्पू यादव जी ने कहा है कि छात्रों की वापसी की पहल सरकार जल्द से जल्द करे, उसमें जो खर्च आएगा जन अधिकार पार्टी उसके लिए तैयार है अगर जरूरत पड़ी तो.

मेरी संवेदना उन मेडिकल छात्राओं और छात्रों के साथ है जो इस हिंसा से गुजर रहे है. यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्राएं और छात्र किसी भी तरह से वहां से बाहर निकलना चाहते है लेकिन उन्हें कई परेशानियां झेलनी पड़ रही है. कई स्टूडेंट बॉर्डर पर अटके पड़े हैं। ऐसे में केंद्र की मोदी सरकार ने न तो तत्काल उड़ान की व्यवस्था की और न ही किराये में राहत दी क्यूंकि ये सरकार अभी चुनावों में व्यस्त है . हम प्रधानमंत्री से कहना चाहते हैं कि नींद से जागिए और तत्काल कदम उठाइए. उन्होंने कहा कि हमारी मांग है कि केंद्र और राज्य सरकार जल्द से जल्द भारतीय छात्रों व नागरिकों की सकुशल घर वापसी सुनिश्चित करें.