राजस्व कर्मी की मौजूदगी में दाखिल खारिज के नाम पर रिश्वत लेने का वीडियो वायरल

सवाल पर रीगा सीओ बातों को घुमाते रहे अंत में बोले साक्ष्य प्रस्तुत करने पर होगी कार्रवाई. दाखिल खारिज को लेकर पहले भी जिला में उठता रहा है मामला आज भी है लोग परेशान…

वायरल वीडियो में राजस्व कर्मी …

सीतामढ़ी : दाखिल खारिज एक अबूझ पहेली बनी हुई है लोगों के दर्द व परेशानी का सबसे बड़ा कारण भी। लोग महीनों कार्यालय व कर्मी के यहां चक्कर लगाते लगाते थक जाते हैं और अंत में रिश्वत ही उनके काम के समाधान में काम आता है। जिले के कई जगहों से दाखिल खारिज के नाम पर अवैध वसूली का मामला पहले भी आता रहा है।

ताजा मामला रीगा का है जहां एक राजस्व कर्मी के मौजूदगी में रिश्वत लेने का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो के माध्यम से यह आरोप लगाया गया है कि राजस्व कर्मी की उपस्थिति में दाखिल खारिज के नाम पर 5000 की रिश्वत मांग की गई है. बताया गया है कि रीगा अंचल कार्यालय क्षेत्र के भवदेपुर में 1.5 डिसमिल जमीन के दाखिल खारिज के लिए आवेदक रमेश कुमार से रिश्वत लेने का स्टिंग वीडियो बनाया गया है.

हालांकि जब इस मामले में सीओ रीगा से सवाल किया गया तो उन्होंने मीडिया को एक नई परिभाषा सिखा दी कहा 20 वर्ष से नौकरी करता हूं मुझे पता है मोबाइल पर बयान नहीं देना है कल थाना में आइए पूरी जानकारी दी जाएगी।

जिला संवाददाता ने सीओ से कहा आपका बयान नहीं बल्कि वायरल वीडियो की बाबत आपसे आपका पक्ष रखना जरूरी था यही मीडिया का कर्तव्य है अच्छा हुआ आपने विगत 9 वर्षों के पत्रकारिता में नई परिभाषा सिखला दी अब आप बताएंगे इस बाबत क्या करवाई हुई तब सीओ बोले साक्ष्य प्रस्तुत करने को कहा गया है जिसके बाद जांच होगी।