विवाह से पहले बीमारी को छुपाना धोखा, रद्द हो सकती है आपकी शादी

दिल्ली : भारत एक ऐसा देश है जिसे अपने सभ्यता और संस्कृति पर हमेशा गर्व रहता है. देश में विवाह एक मजबूत रिश्ते को जन्म देता है जो दो परिवारों के बीच खुशी का पल लेकर आता है. सात जन्मों के वादे के साथ दूल्हा और दुल्हन एक दूसरे के हो जाते हैं.

हाल ही में दिल्ली हाईकोर्ट ने टिप्पणी किया है जिससे शादी से पहले बीमारी को छुपाना धोखा है और यह आपके शादी को रद्द करने का कारण भी बन सकता है. अदालत ने फैमिली कोर्ट के आदेश को रद्द करते हुए एक व्यक्ति के विवाह को खारिज करने का आदेश भी जारी कर दिया.

आइए जान लेते हैं क्या था पूरा मामला एक याचिका दायर के पति ने कहा कि उसका विवाह 10 दिसंबर 2005 को पूरे विधि विधान के साथ हुआ था उसके ससुराल पक्ष के लोगों ने पत्नी की बीमारी को छुपाकर धोखा से शादी कर लिया.