सीतामढ़ी में एक दर्जन अवैध नर्सिंग होम में छापेमारी,किया गया सील

सीतामढ़ी : जिले के रीगा में चल रहे अवैध नर्सिंग होम को लेकर स्थानीय लोगों के द्वारा लगातार जिला प्रशासन को शिकायत की जा रही थी.

इसी कड़ी में मंगलवार को जिला प्रशासन के निर्देश पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डॉ उदयभानु सिंह, डॉक्टर श्री बालकृष्ण कुमार व अंचलाधिकारी राजकिशोर साह के नेतृत्व में रीगा मिल बाजार में चल रहे तकरीबन एक दर्जन अवैध नर्सिंग होम पर छापेमारी की गई.

इस दौरान स्टेशन रोड स्थित अवैध नर्सिंग होम मां जानकी पॉलीक्लिनिक पर पहुंचते ही डॉ वहां से फरार हो गया वही कुछ ही देर बाद वहां से पॉलीक्लिनिक का बोर्ड भी गायब था. पुनः छापेमारी टीम आदित्य मेमोरियल हॉस्पिटल उपेंद्र प्रसाद के क्लीनिक पर छापेमारी किया वहां से भी डॉ फरार हो गया इसके बाद छापेमारी टीम मिल बाज़ार से सटे उत्तर महावीर पॉलीक्लिनिक त्रिपुरारी मिश्र के क्लीनिक पर छापेमारी किया.

इस दौरान अवैध रूप से चला रहे निजी क्लीनिक को अंचलाधिकारी के देखरेख में सरकारी ताला लगा दिया गया. वही इस संबंध में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डॉ उदयभानु सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि छापेमारी टीम को देखते ही अवैध रूप से चला रहे हैं फर्जी नर्सिंग होम के फर्जी डॉक्टर साहब क्लीनिक छोड़ फरार हो जा रहे हैं.

वही मां जानकी पॉलीक्लिनिक के संस्थापक एन कुमार एवं आदित्य मेमोरियल हॉस्पिटल के उपेंद्र प्रसाद, मां गंगे हॉस्पिटल के अलावा अन्य कई अवैध रूप से चल रहे क्लीनिक संचालकों पर आगे की कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है.

इन सभी अवैध क्लीनिक का रिपोर्ट जिला चिकित्सा पदाधिकारी को सौंप दी जाएगी ज्ञात हो कि विगत एक रोज पूर्व त्रिपुरारी मिश्रा के महावीर पॉलीक्लिनिक के पीछे एक नवजात बच्चे का शव लावारिस अवस्था में मिला था, जिसकी खबर सोशल मीडिया के अलावा अन्य कई दैनिक अखबार में छपी थी जिसके बाद जिला प्रशासन ने कार्रवाई करते हुए अवैध रूप से चल रहे फर्जी क्लीनिक को सील कर दिया है.